उमरी कोटा में जिला फ़ूड अधिकारी की जांच, कोटेदार की मनमानी आई सामने

उमरी कोटा में जिला फ़ूड अधिकारी की जांच, कोटेदार की मनमानी आई सामने

ग्राम पंचायतों में कोटेदारों की कालाबाजारी से आम जनता और किसान परेशान होते हैं ऐसे कई मामले सामने आए जहां पर कोटेदारों की मनमानी के चलते किसानों को समस्या हुई।आज एक बार फिर उमरी कोटा से ऐसा ही मामला सामने आया है जहां पर कोटेदार उमेश गौतम की कालाबाजारी के कारण किसी को भी गल्ला नहीं मिल रहा है और इसके कारण मजदूर परेशान हो रहे हैं। आज उमरी कोटा में फूड अधिकारी ने जांच की जहां कोटेदार की बेईमानी सामने आई। मजदूरों का आरोप है कि कोटेदार दुकान में फिंगर मशीन बंद है और सारा गल्ला कोटेदार उमेश गौतम ने बेंच दिया है। जब भी गल्ला के संबंध में मजदूर कोई भी सवाल पूछते तो कोटेदार आईडी बंद होने का हवाला देता था। लगातार शिकायतों के बाद आज जिला फ़ूड अधिकारी ने मामले की जांच की जहां पर कोटेदार की मनमानी सामने आई। इस जांच में जिला फ़ूड अधिकारी राजेश पटेल सरपंच समिति प्रबंधक बैकुंठपुर सहायक सेक्रेटरी, शिकायतकर्ता व तमाम ग्रामवासी मौजूद रहे।