रीवा में नहीं खुलेंगी शराब की दुकानें, शराब ठेकेदारों ने फंसाया पेंच

रीवा में नहीं खुलेंगी शराब की दुकानें, शराब ठेकेदारों ने फंसाया पेंच

 

लॉक डाउन में  मिली राहत से भले ही सब्जी दुकाने खुल गई हो लेकिन जिले में शराब  का सेवन करने वाले लोगों को शराब की दुकानों के खुलने का अभी और इंतजार करना पड़ेगा।। दरअसल शराब ठेकेदार अभी दुकान खोलने को तैयार नहीं है| यह खबर जिले में शराब प्रेमियों को मायूस करने वाली हैं। दरअसल लोगों को काफी दिनों से शराब दुकान खोलने का इंतजार रहा हैं हालाकि प्रदेश सरकार ने  आज से शराब की दुकानें खोलने का आदेश जारी कर दिया है लेकिन ठेकेदारों ने पेंच फंसा दिया है| ठेकेदार समय बढ़ाने पर एक्साइज ड्यूटी कम करने की मांग पर अड़े हुए है| सरकार व शराब ठेकेदारों के बीच बैठक तो हुई लेकिन कोई निष्कर्ष नहीं निकल पाया है सरकार द्वारा ठेकेदारों को कोई छूट न देने के कारण शराब ठेकेदार अभी दुकानें खोलने के पक्ष में नहीं है| खासतौर से समूह ठेकेदार दुकाने खोलने के पक्ष में तो कतई नहीं हैं ।ठेकेदारों का कहना है कि दुकानों की निविदा में जो शर्ते राखी गई हैं उसके अनुसार शराब की दुकानें खोलने के लिए दिए गए समय में परिवर्तन किया जा सकता है, लेकिन लॉक डाउन में शाम 6:00 बजे तक दुकान खोलने की अनुमति मिली है और सोशल डिस्टेंसिंग के लिए निर्देश दिए गए हैं लेकिन  व्यवस्था कैसे बन पाएगी| इसके अलावा शराब ठेकेदारों ने यह भी कहा है कि राजस्व की वसूली के लिए लोगों की जान जोखिम में डालना भी उचित नहीं है और शराब लेने आने वाले लोगों को कंट्रोल कर पाना भी शराब ठेकेदारों के बस की बात नहीं हैं|  बता दे शराब ठेकेदार एसोसिएशन हाईकोर्ट जाने की तैयारी भी कर रहा है| हालांकि कहा यह भी जा रहा हैं कि इसी बहाने शराब ठेकेदार सरकार पर दबाव डालकर बोली की कीमत कम कराने की फिराक में हैं|  हालांकि सूत्रों की माने तो आदेश के बाद भी शराब की दुकानें नहीं खोलने पर राज्य सरकार ठेकेदारों के खिलाफ एक्शन ले सकती है|