शहडोल जिला अस्पताल में फिर हुई 3 बच्चों की मौत

शहडोल जिला अस्पताल में फिर हुई 3 बच्चों की मौत

 जिला चिकित्सालय शहडोल कुशाभाऊ ठाकरे में बच्चों के मौत का आंकड़ा बढ़ता ही जा रहा है पर जिम्मेदार अपनी जिम्मेदारियों से बचते दिख रहे हैं| कुछ दिन पूर्व कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट डॉ0 सत्येंद्र सिंह ने कुशाभाऊ ठाकरे जिला चिकित्सालय शहडोल का औचक निरीक्षण किया था पर शायद  बदलाव नहीं दिखा .जिला चिकित्सालय शहडोल में लगातार बच्चों की मौत हो रही है फिर 12 घंटे के अंदर दो बच्चों की मौत हो गई .बुढार से आया 6 माह में जन्मा बच्चे की मौत हो गई .वही पाली से आए 7 माह के नवजात की निमोनिया बिगड़ने से मौत हो गई .और गुरुवार की सुबह 11:00 बजे गंभीर हालत में लाया गया था जिसकी मौत हो गई .वहीं जिला अस्पताल डिंडोरी से आए 1 माह 10 दिन के नवजात की कम वजन के कारण मौत हुई . बता दे की डेढ़ वर्ष पूर्व 24 घंटे के अंदर 6 बच्चों की मौत का बड़ा मामला आया था .उस वक्त सिविल सर्जन व सीएमएचओ को हटाए गए थे .गहन चिकित्सा इकाई के पीआईसीयू  और एसएनसीयू में नवजात बच्चों की मौत सिलसिला नही थम रहा| अस्पताल प्रबंधक की लापरवाही के चलते मौत का आरोप लग रहा है| अब तक कुल 11 बच्चों की मौत हो चुकी है|