शहडोल जिले में बाणगंगा मेला का आयोजन मेले में दिखी भरी भीड़

शहडोल जिले में बाणगंगा मेला का आयोजन  मेले में दिखी भरी भीड़

पांडवों के जमाने से चली आ रही परंपरा विराट नगरी जिसे एक विराट का नगर कहा जाता था लेकिन अब विराट नगरी का नाम शहडोल हो चुका है।पुराने ग्रंथ मान्यताओं के अनुसार विराट नगरी में पांडव निवास करते थे तभी से लेकर अब तक हर वर्ष 14 जनवरी मकर संक्रांति के उपलक्ष्य में बाणगंगा मेला मैदान में मेले का आरंभ किया जाता है। जिला कलेक्टर शहडोल डॉक्टर सत्येंद्र सिंह ने मेले का जायजा करने के बाद रोड के किनारे जितने भी छोटे से लेकर बड़े दुकान जो कि अतिक्रमण के श्रेणी में आते थे उन्हें जिला कलेक्टर ने सब को अतिक्रमण मुक्त कराया। हर वर्ष की भांति इस वर्ष कुछ अलग ही नजारा शहडोल बाणगंगा मेला मैदान में देखने को मिला| शहडोल जिले की पुलिस फोर्स मेला मैदान में तैनात दिखाई दिए वही जितनी दूर मेला का एरिया है उनके बगल से जाली वाली बाउंड्री भी करवाई गई और आने जाने वालों के लिए सिर्फ दो द्वार बनाए गए। संवाददाता