संकल्प योजना के तहत उमरिया पुलिस अधीक्षक कर रहे बुजुर्ग और असहाय लोगों की मदद

संकल्प योजना के तहत उमरिया पुलिस अधीक्षक कर रहे बुजुर्ग और असहाय लोगों की मदद

संकल्प योजना के तहत उमरिया जिले के पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा और उनके टीम के द्वारा लॉक डाउन के दौरान कर रही हैं तन्मयता के साथ बुजुर्गों की सेवा पुलिस अधीक्षक के दौरा लगातार उमरिया जिले और सभी थाना क्षेत्र में एक संकल्प बुजुर्गों के नाम असहाय और गरीब लोगों को राशन और सब्जी दवाईयां जो भी ज़रूरतों की चीज़ें है वह सब  वितरित कर उनके जीवन यापन की व्यवस्था की जा रही है| कोई भी बुजुर्ग जो असहाय हैं जिसका कोई सहायता करने वाला नहीं है ऐसे लोगों की मदद के लिए पुलिस ने अपने हाथ आगे बढ़ाये है| आज नौरोजाबाद थाना के अंतर्गत 7 असहाय लोगों के घर जाकर पुलिस टीम के द्वारा राशन और जरुरत की चीज़े दिया गया है|

 

विभिन्न इलाकों में बड़ी संख्या में ऐसे बुजुर्ग अकेले या दंपत्ति निवासरत है जिनके बच्चे दूसरे शहरों में नौकरी करते हैं और वे अकेले रहने को मजबूर हैं| वैसे भी बुजुर्गों के लिए अपनी सुविधाएं जुटाना मुश्किल होता है और महामारी के बीच यह और भी कठिन हो गया है| लॉकडाउन के कारण उन्हें कई तरह की समस्याओं से गुजरना पड़ रहा है लिहाजा बुजुर्ग सुरक्षित रहें समस्याओं से न जूझना पड़े इसके साथ ही उन्हें सुविधाएं उनके दरवाजे पर मिले इसके लिए उमरिया पुलिस ने संकल्प योजना की शुरुआत की है| पुलिस अधीक्षक सचिन शर्मा ने जिले में जितने भी बुजुर्ग हैं उनको सुविधा देने के मकसद से यह योजना शुरू की है| 60 वर्ष की आयु से अधिक के बुजुर्गों के लिए यह योजना शुरू की गई है| इस योजना के जरिए इन बुजुर्गों के घर तक दवाएं, सब्जी, दूध, आवश्यक सामान टेलीफोन, टीवी रिचार्ज कराना, ऑनलाइन आवेदन करना आदि जैसी सुविधाएं मुहैया कराई जा रही है। बताया गया है कि सभी थाना क्षेत्रों में पुलिसकर्मियों को बुजुर्गों की देखरेख के लिए तैनात किया गया है| इन पुलिस जवानों पर बुजुर्गों की जरूरतों को पूरा करने की जवाबदारी सौंपी गई है इसके साथ पुलिस जवान हर दो दिन में इन बुजुर्गों से संपर्क करते हैं और उनकी जरूरत को पूछते हैं और उनकी जरूरत की चीजें उन्हें उपलब्ध कराया जाता है| पुलिस अधीक्षक की यह संकल्प योजना की शुरुआत से असहाय लोगों को काफी सहूलियत मिल रही है| पुलिस का यह काम बहुत ही सराहनीय है|