ग्रामीणों को नहीं मिल रहा शासन की योजनाओं का लाभ, सरपंच वा सचिव मिलकर कर रहे फर्जीवाडा

ग्रामीणों को नहीं मिल रहा शासन की योजनाओं का लाभ, सरपंच वा सचिव मिलकर कर रहे फर्जीवाडा

शासन गरीबो के लिए हर वो अभियान चला रही है जिससे ग्रामीणों को शासन के योजनाओं का लाभ दिलाया जा सके भले ही मोदी जी का सपना हो की गांव की हर रोड पक्की हो सरकार ने प्रधानमंत्री सड़क योजना आरंभ किया पर पंचायतों के सचिव वा ठेकेदार की मिलीभगत से ये योजना भ्रष्टाचार की भेट चढ़ गई|

लंबे समय से ग्राम पंचायत साखी मे सरपंच वा सचिव मिलकर ग्रामीणों को मिलने वाली योजनाओं पर भ्रष्टाचार कर रहे है| कई ऐसे बिल भी है जो बिना किसी काम के है और पैसे निकाल लिए गए| शासन के पैसो से कराए जाने वाले कार्य ठेकेदार से मिलकर लगातार घटिया काम कराकर लाखो रुपए निकाल लिए गए है| वही रेत गिट्टी के कई बिल जो चेतन कुशवाहा नामक ठेकेदार के लगाए गए है वो भी सारा मटेरियल चोरी का बिना राल्टि की रेत वा मूरूम से कार्य को कराया गया| जिसमे इंजीनियर व जनपद के कई लोग शामिल हो सकते है| ग्राम पंचायत साखी मे ग्रेवल रोड मे भी सचिव वा सरपंच सहित इंजीनियर भी मिलकर लाखो की घपलेबाजी की गई जिसपे ग्रामीणों ने मिलकर जिला कलेक्टर को लिखित शिकायत की है जिसमे ग्रेवल रोड बिना गुणवत्ताहीन सड़क बनाया गया और कई फर्जी बिल लगाकर सचिव सरपंच वा सब इंजीनियर ने पैसे निकाल लिए आज भी साखी पंचायत मे कई कार्य अधूरे पड़े है जिसकी शिकायत कई बार जनपद बुढार से लेकर जिला तक की गई पर जांच भी केवल आंच तक ही रह गई कार्यवाही के नाम पर कुछ नही हुआ|