क्वारेंटाईन सेंटर मे भूखे और प्यासे हैं मजदूर, सचिव सरपंच पर लगाया आरोप

क्वारेंटाईन सेंटर मे भूखे और प्यासे हैं मजदूर, सचिव सरपंच पर लगाया आरोप

लॉकडाउन के दरमियाँ क्वारेंटाइन से जुडी हुई खबरे खूब सामने आई जिसमे से नौरोजाबाद स्टेशन के क्वारेंटाईन सेंटर का हाल भी कुछ ऐसा ही हैं, जहा प्रवासी मजदूर भूखे और प्यासे रहने को मजबूर है मजदूरों द्वारा बताया गया कि हम लोग 10 दिनों से प्राथमिक शाला देवगांवाखुर्द में रह रहे हैं लेकिन हम लोगों की खाने और पीने की कोई भी सुविधा नहीं है| यहाँ जो हैण्ड पम्प लगा हुआ है इसका पानी इतना गंदा हैं जिसे पी कर अच्छा खासा आदमी बीमार हो जाये|

मजदूरों द्वारा बताया गया कि हम लोग आंध्र प्रदेश और इलाहाबाद में मजदूरी करते थे और हम लोग यहा 10 दिनों से क्वारेंटाईन सेंटर में रुके हुए हैं हम लोगों को यहाँ पर काफी ज्यादा दिक्कतों का सामना भी करना पड़ रहा है मजदूरों के द्वारा सचिव कमलेश चौधरी और सरपंच पे आरोप भी लगाया गया हैं कि हमारे खाने और पीने कि कोई भी व्यवस्था है अपने घरों से बिस्तर मंगवाकर सो रहे हैं और हम लोगों को गंदा पानी पीने के लिए छोड़ दिया गया है न तो यहाँ हमें लोगों मास्क उपलब्ध कराया गया है और ना ही साबुन है कोई व्यवस्था नहीं करवाई गई है हम लोग  10 दिन से हर चीज़ अपने घर से मंगवाकर अपना जीवन यापन दिनों से कर रहे हैं|