पुलिस महानिरक्षक ने चरण स्पर्श कहने पर लगाई रोक, बोले करो गुड मॉर्निंग

पुलिस महानिरक्षक ने चरण स्पर्श कहने पर लगाई रोक, बोले करो गुड मॉर्निंग

 रीवा पुलिस महानिरक्षक चंचल शेखर ने पुलिस विभाग में एक नयी पहल  की शुरुआत की   हैं  , अब कोई भी पुलिस अधिकारी या फिर पुलिस कर्मचारी फ़ोन पर बातचीत करते वक्त एक दुसरे को चरण स्पर्श या प्रणाम नही कहेंगे | IG रीवा ने आदेश दिए हैं की अब फ़ोन पर बात   करते हुए सभी कर्मचारी एक दुसरे से गुड मोर्निंग , गुड इवनिंग कहेंगे और एक दूसरे को सम्बोधित करेंगे  | उन्होंने  आदेश जारी करते हुए आदेश में  यह लिखा की यदि कोई भी पुलिस अधिकारी या पुलिस कर्मी की इस तरह की शिकायत मिलती है या किसी माध्यम से जानकारी मिलती है तो संबंधित के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

आपको बता दे की उक्त आदेश उस समय जारी हुआ है जब पुलिस मुख्यालय ने आदेश जारी कर साफ तौर पर अपने अधिकारियों व कर्मचारियों को अवगत कराया था कि किसी भी राजनीतिक व्यक्ति से सीधे पत्राचार नहीं किया जाए। साथ ही ट्रांसफर या पोस्टिंग में किसी भी प्रकार का राजनीतिक दखल न कराने की सिफारिश की गई थी। इतना ही नहीं पुलिस मुख्यालय द्वारा जारी हुए पत्र में आईजी स्तर के अफसरों का कद बढ़ाते हुए अनुशंसा करने की बात भी कही गई थी।

गौर करने वाली बात यह हैं की नवंबर 2019 में तकरीबन 50 पुलिस कर्मचारियों ने पुलिस विभाग के  कप्तान को अवगत कराया था कि उनके द्वारा अपने अफसर को चरण स्पर्श नहीं किया गया तो उन्हें या तो लाइन भेज दिया गया या तो फिर  उनका तबादला करा दिया गया।

जिसके बाद से ही लगातार इस बात का अनुमान  लगाया जा रहा था कि मैदान स्तर पर कुछ तब्दीली कराने पर पुलिस मुख्यालय विचार कर रहा है। हालांकि शुरुआत में  राजनीतिक हस्तक्षेप   हुई जिसके चलते  हालात सामान्य नहीं थे लेकिन अब मुख्यालय के आदेश पर आईजी स्तर के अधिकारी आदेश जारी कर एक बार फिर पुलिस विभाग में समानता लाने का प्रयास कर रहे हैं।